ओमीक्रोन को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट, सैंपलिंग जारी

•विदेश से आए लोगों की हो रही सैंपलिंग
•दूसरे डोज़ के टीकाकरण के बाद ही सुरक्षा सम्भव

मधुबनी,30 नवंबर | कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन को लेकर जिला प्रशासन व स्वास्थ्य प्रशासन अलर्ट है। मुख्यालय के निर्देश के आलोक में स्वास्थ्य विभाग कोरोना से निपटने के लिए फिर से तैयारी में जुट गया है। इसके साथ ही कोविड-19 संक्रमण के लिए चिह्नित केंद्रों को फिर से अपडेट करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। सिविल सर्जन डॉ सुनील कुमार झा ने बताया इस दौरान ओमीक्रोन के प्रसार को रोकने के लिए विदेशी नागरिकों की निगरानी का सख्त निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा जिले में अगर कोई विदेशी घर लौटते हैं तो उसकी हर हाल में जांच कराई जाए। साथ ही जांच के बाद संक्रमित पाए जाने पर 14 दिनों तक होम क्वारंटाइन में रखना सुनिश्चित करें ताकि ओमीक्रोन के संक्रमण के प्रसार को पूरी तरह से रोका जा सके। जिसके तहत रहिका प्रखंड के सौराठ गांव में मलेशिया से आए 4 लोगों की आरटीपीसीआर जांच की गई।

विदेश से आए लोगों की सैंपलिंग करने का निर्देश:
सिविल सर्जन डॉ सुनील कुमार झा ने बताया ओमीक्रोन संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग अलर्ट है। इसको लेकर सभी पीएचसी प्रभारियों को निर्देश दिया गया है| विदेश से लौटने वाले लोगों की मॉनिटरिंग की जा रही है | जांच के बाद संक्रमित पाए जाने पर उसे होम क्वारंटाइन में रखना है। उन्होंने कहा कि बुधवार को जिले में मेगा अभियान चलाकर वंचित लोगों का टीकाकरण किया जाएगा | वहीं 4 दिसंबर एवं 14 दिसंबर 2021 को जिले भर में मेगा ड्राइव चलाकर शत् प्रतिशत सेकेंड डोज टीकाकरण सुनिश्चित किया जाएगा। अनुमंडल स्तर पर वाररूम स्थापित करते हुए माइक्रो प्लान ड्यू लिस्ट के अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राउंड स्तर पर व्यापक पैमाने पर सेकेंड डोज टीकाकरण डोर-टू-डोर सुनिश्चित किया जाए। मेगा ड्राइव के सफल आयोजन के लिए जिला नियंत्रण कक्ष एवं प्रखंड नियंत्रण कक्ष से मॉनिटरिंग सुनिश्चित की जाए।

दूसरे डोज़ के टीकाकरण के बाद ही सुरक्षा सम्भव :
जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ एस.के विश्वकर्मा ने बताया कि कोरोना महामारी की संभावित तीसरी लहर से बचाव को लेकर आवश्यक सावधानियां बरतने की जानकारी भी लोगों को गांवों में घूमकर दी जा रही है। ताकि जिले के लोग जो 18 वर्ष से ऊपर के हैं, कोविड की दोनों डोज़ लेकर सुरक्षित रहें।
– अभी भी कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने की आवश्यकता है:
डॉ एस.के विश्वकर्मा ने बताया जो लोग टीकाकरण से वंचित हैं उन सभी को टीका लेने की आवश्यकता है। साथ ही दोनों डोज़ लेकर भी आने वाले को कोविड की लहर से बचने के लिए कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने की आवश्यकता है। उन्होंने बताया कि अभी भी कोरोना खत्म नहीं हुआ है।अभी भी सावधान रहने की आवश्यकता है। दूसरा डोज़ लिए बिना कोरोना से हमसब सुरक्षित नहीं हैं क्योंकि दूसरे डोज़ के बाद ही शरीर में एन्टी बॉडी का निर्माण होगा।

Related posts

Leave a Comment