विभिन्न रेलखण्डों पर १५ दिवसीय सघन टिकट जाँच अभियान चलाया जा रहा है

विभिन्न रेलखण्डों पर १५ दिवसीय सघन टिकट जाँच अभियान चलाया जा रहा है

ब्यूरो रमेश शंकर झा,

समस्तीपुर:- मंडल रेल प्रबंधक आलोक अग्रवाल के निर्देशानुसार एवं वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक सरस्वती चन्द्र समस्तीपुर के मार्गदर्शन में समस्तीपुर मंडल के विभिन्न रेलखण्डों पर 15 दिवसीय सघन टिकट जाँच अभियान चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में दिनांक:- 25/09/2021 एवं 26/09/2021 को समस्तीपुर – मुजफ्फरपुर – बापूधाम मोतिहारी, समस्तीपुर- दरभंगा- जयनगर, सहरसा- मानसी आदि रेलखंडों पर टिकट जाँच अभियान आयोजित किया गया। इस टिकट जाँच अभियान का मुख्य उददेशय यात्रियों को बिना टिकट यात्रा ना करने हेतु जागरूक करना तथा बिना टिकट यात्रा पर रोक लगाना है। विदित हो कि समस्तीपुर मंडल में अधिकतर मेल, एक्सप्रेस एवं सवारी गाड़ियों का परिचालन प्रारंभ हो चुका है। वहीं मेल, एक्सप्रेस गाड़ियों के सभी श्रेणियों में यात्रा हेतु अग्रिम आरक्षण अनिवार्य है। सवारी गाड़ियों में अनारक्षित यात्रा टिकट लेकर यात्रा की जा सकती है। रेलवे प्रशासन के द्वारा यात्रियों को उचित यात्रा टिकट लेकर हीं यात्रा करने हेतु जागरूक किया जा रहा जिसके लिए विभिन्न माध्यमों यथा उद्घोषणा, सोशल मिडिया आदि का उपयोग किया जा रहा है। विशेष टिकट जाँच अभियान चलाकर वैसे यात्री जो बिना उचित यात्रा टिकट के यात्रा करते हुए पाये जाते हैं उनसे नियमानुसार प्रभार लिया जाता है तथा उन्हें भविष्य में बिना टिकट यात्रा ना करन हेतु भी जागरूक किया जाता है। इस अभियान के दौरान लगभग 4579 यात्रियों को बिना टिकट यात्रा करते हुए पाया गया है। जिनसे निर्धारित प्रभार के रूप में लगभग 28,40,050 रूपये की राशि लिए गए है। वहीं वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक प्रसन्न कुमार (टिकट जाँच) ने यात्रियों से आग्रह किया कि वह बिना टिकट यात्रा ना करें, यात्रा करते हुए यात्रा टिकट स्टेशन स्थित आरक्षित, अनारक्षित टिकट खिड़की अथवा मोबाईल एप का प्रयोग किया जा सकता है। इस विशेष टिकट जांच अभियान में पी०आर० पी० सिंह एसीएम (कोचिंग), मो० फ़ैज़ान अनवर एसीएम (ACM) (TC) एवं मंडल के सभी वाणिज्य निरीक्षकों को भी लगाया गया है, जो अलग-अलग टिकट जांच दल का नेतृत्व कर इस अभियान को सफल बनाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं। इस आशय की जानकारी वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक सरस्वती चन्द्र ने प्रेस को दी।

Related posts

Leave a Comment