नलजल योजना में गड़बड़ी करने वाले मुखिया वार्ड सदस्यों की उल्टी गिनती शुरू

नलजल योजना में गड़बड़ी करने वाले मुखिया वार्ड सदस्यों की उल्टी गिनती शुरू, किया जा रहा हैं सघन जाँच

मधुबनी/बिस्फी से चन्दन कुमार

बिस्फी प्रखण्ड क्षेत्र में सात निश्चय योजना धरातल पर हवा हवाई में होने की मामला प्रकाश में लगातार आ रही हैं। बिहार सरकार द्वारा इस योजना को शख्ती से ली जा रही हैं। जिसमे कई शख्त निर्देश भी जारी कर दिया गया हैं। जिससे अधिकतर ग्राम पंचायत के मुखिया वार्ड सदस्यों में खलबली मच गई हैं कई पंचायत के मुखिया का होश उड़ गया हैं। वहीं बिस्फी प्रखण्ड क्षेत्र में अधिकतर पंचायत में सात निश्चय योजना धरातल पर टाँय-टाँय फीस हैं। जिसको जाँच के उपरांत पदाधिकारी द्वारा पारदर्शिता से कड़ी कार्रवाई की जा सकता हैं। वहीं जिला पदाधिकारी के निर्देश के आलोक में उप समाहर्ता किशोर कुमार के नृतुत्व में प्रखण्ड विकास पदाधिकारी बालेंदु नारायण पांडे, बीपीआरओ चन्द्रेश्वर नरायन, कई एसिस्टेंट इंजीनियर सहित कई पदाधिकारियों के द्वारा जगवन पूर्वी पंचायत के वार्ड संख्या 03,05,06,09,14 में नलजल योजनाओं की सघन जाँच किया गया। जिसमे कार्य की इस्थित को देख कर पंचायत के मुखिया वार्ड सदस्य एवं वार्ड सचिवों पर बीडीओ बालेंदु पांडे की गुस्सा फूट पड़ा और कार्रवाई करने के लिए जिला अधिकारी को लिखित में भेज दिया गया हैं। इस मौके पर बीडीओ बालेंदु पांडे ने बताया कि जगवन पूर्वी पंचायत के कई वार्डों में नल जल योजना की जांच की गई हैं। जिसमें लगभग सभी वार्डों में नल जल योजना अधूरी पड़ी हुई है और कार्य की स्थिति बद से बदतर में पड़ा हुआ है। जबकि इस वार्डो के वार्ड सदस्य एवं वार्ड सचिव के द्वारा पैसा निकासी भी कर बंदरबांट कर लिया गया हैं। पांडे ने बताया कि जगवन पूर्वी पंचायत के 09 एवं 14 में किसी प्रकार का कोई कार्य नहीं हुवा हैं इस वार्ड में कनेक्शन, टँकी, एस्ट्रक्चर इत्यादि किसी प्रकार की कार्य नही पाया गया हैं। वहीं वार्ड संख्या 03,05 में इस्थित चिंताजनक हैं WIMC अध्यक्ष, सचिव, मुखिया, कॉन्ट्रेक्टर पर कार्रवाई की अनुसंशा की जा गई हैं। सात निश्चय योजना एवं अन्य योजनाओं में किसी तरह की लापरवाही बरती गई हैं तो दोषियों पर एफआईआर दर्ज एवं जेल की हवा खाने से कोई नहीं बचा पाएंगे। सरकार इस योजना को लोगों के घर तक शुद्ध पेयजल पहुंचाने के लिए लाई गई हैं न की पैसा बंदरबांट करने के लिए आई गई हैं कार्य की योजना में गड़बड़ी की शिकायत मिलने पर जाँच कर कार्रवाई किया जायेगा तथा किसी भी वार्ड में योजना सम्बन्धी विभिन्न पंजी संधारित नही थी। सघन जाँच के दौरान बाल विकास पदाधिकारी व पूर्व बीडीओ अहमर अबदाली भी मौजूद थें।

Related posts

Leave a Comment