अब छूटे हुए स्वास्थ कर्मी भी ले सकते हैं कोरोना का टीका

अब छूटे हुए स्वास्थ कर्मी भी ले सकते हैं कोरोना का टीका

-कोरोना का टीका लगवाएं और गाइडलाइन का भी पालन करें
-टीका को लेकर किसी तरह की दुविधा में नहीं रहें, पूरी तरह से है सुरक्षित
-कोरोना की रोकथाम को लेकर स्वास्थ्य विभाग हर तरफ से है तैयार

मधुबनी, 17 फरवरी।
कोरोना की रोकथाम को लेकर स्वास्थ्य विभाग लगातार प्रयास कर रहा है। शुरुआत में कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए जांच की व्यवस्था की गई और बाद में जांच का दायरा बढ़ाया गया। कोरोना मरीजों के इलाज को लेकर अस्पतालों में व्यवस्था की गई| अब टीका लगना शुरू हो चुका है।प्रथम चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया गया।प्रथम चरण में 13 हजार से अधिक स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया गया| वहीं कुछ स्वास्थ्य कर्मी टीका लेने से छूट गए। अब स्वास्थ्य विभाग ने छूटे हुए स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगवाने का एक और मौका दिया है। सिविल सर्जन डॉ सुनील कुमार झा ने बताया बहुत सारे लोग टीका को लेकर दुविधा में हैं| ऐसे लोगों को सारी दुविधा को खत्म कर देना चाहिए और टीका लेना चाहिए। साथ ही कोरोना संबंधित गाइडलाइन का भी पालन करना चाहिए।
टीका लगाने के बाद भी कोरोना की गाइडलाइन का पालन करें –
सिविल सर्जन डॉ सुनील कुमार झा ने बताया कोरोना का टीका बनाने के पहले सारी प्रक्रियाओं को अपनाया गया है| हर तरह से सुरक्षित हो जाने के बाद टीकाकरण का फैसला किया गया। इसलिए कोरोना का टीका को लेकर किसी तरह के भ्रम में नहीं रहें। बेधड़क होकर कोरोना का टीका लगवाएं। ऐसा नहीं कि टीका ले लेने के बाद बेफिक्र हो गए| टीका लगाने के बाद भी कोरोना की गाइडलाइन का पालन करें। इससे ना सिर्फ कोरोना से बचाव होगा, बल्कि अन्य बीमारियों से सुरक्षित रहेंगे।

कोरोना से ठीक हो गए हैं तो भी टीका लगवाएं:
सिविल सर्जन डॉ सुनील कुमार झा ने बताया कि बहुत सारे लोग कहते हैं कि मैं तो कोरोना से ठीक हो चुका हूं, मुझे टीका लगवाने की जरूरत नहीं है। ऐसा बिल्कुल भी नहीं करें। कोरोना से अगर आप ठीक हो गए हैं तो इसका यह मतलब नहीं कि आप दोबारा इसकी चपेट में नहीं आएंगे। इसलिए टीका लगवा लें| इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही, आपके साथ रहने वाले लोग भी सुरक्षित हो जाएंगे।

अधिक उम्र के लोग भी लगवा सकते हैं टीका:
सिविल सर्जन ने बताया कि ऐसा देखा जा रहा है कि बहुत सारे लोग अधिक उम्र का हवाला देकर टीका लेने से बचने की कोशिश कर रहे हैं।अधिक उम्र वालों को टीका लगवाने के लिए और आगे आना चाहिए। जिनकी उम्र अधिक होती है उनके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है| ऐसे में अधिक उम्र वाले लोग निश्चित तौर पर टीका लगवाएं। साथ ही अगर कोई गंभीर बीमारी हो तो भी टीका लगवाने से परहेज न करें| गंभीर तौर पर बीमार लोग की प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है| इसलिए ऐसे लोग भी टीका लगवाने के लिए आगे आएं।

टीका लेने पर नहीं हुई कोई परेशानी:
सदर अस्पताल के लेखापाल मनीष कुमार ने बताया पिछले माह जनवरी में हमने कोरोना के टीके का प्रथम डोज लिया था| बुधवार को दूसरा डोज ले रहा हूं| विगत एक माह में किसी प्रकार की परेशानी नहीं हुई।

भीड़ में जाने से बचें, सामाजिक दूरी का पालन करें:
जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ एसके विश्वकर्मा ने बताया जिन लोगों ने कोरोना का टीका नहीं लगवाया है, उनको तो सामाजिक दूरी का पालन करना ही चाहिए और भीड़ में जाने से बचना चाहिए, लेकिन जिन लोगों ने टीका लगवा लिया है उन्हें भी इस तरह की सावधानी बरतनी चाहिए। सावधानी बरतने में किसी तरह की कोई समस्या नहीं होनी चाहिए।ऐसा करने से आपके साथ दूसरे लोग भी सुरक्षित रहेंगे।

Related posts

Leave a Comment